Saturday, August 27, 2011

पूज्य दादाजी को श्रद्धांजलि

मेरे पूज्य दादाजी को १७वी पुण्य तिथि में सादर श्रद्धांजलि |

चरणों में आपके सर नवाते रहेंगे,
संस्कारों को आपके निभाते रहेंगे,
गुजारिश है आपसे, सदा कृपा बनाये रखना,
हृदय से सुमन भेंट हम चढाते रहेंगे |

करता हूँ अर्पित मैं श्रद्धांजलि आपको,
परमात्मा में विलीन रहे आत्मा आपकी;
मोक्ष हो, मोह-माया का अंश भी न हो,
नश्वर जग से सुदूर रहे जीवात्मा आपकी |

Wednesday, August 17, 2011

निगाहों में उनके कुछ इस कदर खो गये,
समझ लिया उन्होने कि शायद हम सो गये |
उधर देखा उन्होंने झुकी आँखों से मुझे सिद्दत से,
इधर दिल मेरा धड़कना ही भूल गया |
आम जनता से वोट हैं लेते, काम करते कुछ खाश का,
महंगाई को चरम पे लाके, नाम देते हैं विकास का |

Monday, August 15, 2011

कोई क्या छीनेगा, आजादी को रग रग में बसा लेंगे हम,
दुष्मनों का सर काट देंगे या अपना कटा लेंगे हम |
तिरंगा मेरी जान में है, मेरे ईमान में है, मेरे हरेक अरमान में है,
तिरंगे में भी वही श्रद्धा है, जो मेरे भगवान में है|

Tuesday, August 9, 2011

देखते ही देखते कायनात बदल गई,
सोती आँखों में ही रात बदल गई,
न बदला तो सिर्फ मेरा ये दिल ऐ "दीप",
कहते हैं लोग कि हर बात बदल गई |